AVOID AQUA FRESH RO SYSTEM NO PURITY OF WATER NO PURE BEHAVIOUR FROM THE COMPANY EMPLOYEE TOP TO BOTTOM

कश्मीर और आतंकवाद

मेरे विचार   
मुख्यमंत्री साहेब आप का सुझाव सर आँखों पर लेकिन जिस राज्य में नये रन्ग्रुट्स को मेहनताना न मिल रहा हो, जहाँ आप स्वयं दावा कर रहे हों आतंकवाद के कम होने का, जहाँ आप स्वयं पता करवा रहे हैं कि कितने नौजवान पंडित भर्ती हुए हैं, इसका क्या तात्पर्य है| आप पहले भी दावा कर चुके हैं आतंकवाद कम होने का परन्तु परिणाम आपके सामने है ऐसा क्या है आपके राज्य में कि एक विशेष जाती के लोगो के लिए आपको विशेष कदम उठाने पड़ते हैं क्यों वहां पर बार बार एक सवाल आता है कि आप को एक विशेष समुदाय कि बात करनी पडती है जबकि वहां आतंकवाद का शिकार या ये कहिये कि आतंकवाद नाम की मुसीबत सबके लिए है उनके छुपने के ठिकाने अपने ही समुदाय के लोगों के घरों में हैं | क्या वो लोग दहशत में नही जीते | आतंकवाद कोई समस्या नहीं बल्कि स्वयं की पाली हुई बकरी है जिसे नेता लोग दूर करना नहीं चाहते क्योंकि इसके रहते कोई राज्य की तरक्की की तरफ सवाल नही उठाएगा, कोई वहां के बारे में ज्यादा बात नही करेगा| सुरक्षा केंद्र सरकार को देदो | राज्य के लिए विशेष package (पैसे) लेलो | स्वार्थ आप लोगों का है | आम आदमी शिकार बनता है नकी आप जैसे बड़े आदमी| आप का एक ही नारा "अपना काम बनता भाड़ में जाये जनता" | तो भाई मेरे आतंकवाद से डर नहीं डर नेताओं से है सभी जियेंगे एक साथ जब कोई नेता न होगा अपने पास|
यहाँ कोई आतंकवादी नहीं है आप बीच से हट जाएँ हम अगर कोई हमारा भाई हमसे रूठा है मना लेंगे घर का मामला है |   

समाचार
(Omar(C.M.) said that they are making efforts for their return but they (Kashmiri Pandits) have to be prepared for it. They should feel assured and confident about their return, Militancy is reducing. Omar said he has directed the Inspector general of CID to expedite the verification of Kashmiri Pandit youth, who have been employed under Prime Minister''s job plan in Kashmir Valley recently. "I have directed the IG (CID) to fast track the clearance for them," he said when asked about why wages were not being paid to the new recruits even after five months of joining the service.)

कसाब पकड़ा तो क्या किया

मेरे विचार 
हर ओर एक ही शोर कि राणा को छोड़ दिया | पहली बात तो ये कि राणा पर मुंबई हमले में हाथ होने से अदालत ने इंकार किया है | यदि हाँ करते तो क्या आप खुश होते | आपने कसाब पकड़ा तो क्या किया उसने हमारी अदालत में न्यायाधीश को गालियाँ दी न्याय पद्दति पर ऊँगली उठाई अदालत ने फाँसी की सज़ा सुनाई आपने क्या किया जो राणा पर मुंबई हमलो में शामिल होने की बात अगर फैंसले में होती तो करते | हमारे मंत्री कृष्णाजी आज जो कह रहे हैं क्या उन्हें वहां का कानून पता है उन्हें तो भारत का अपराधिक कानून भी नही पता होगा | आप अगर यहाँ लाकर केस चलाते तो क्या करते, फाँसी, क्या आप बता सकते हैं कितने अपराधी फाँसी का इंतजार कर रहे हैं | U S  में अगर राणा को १५+१५=३० साल की सज़ा होगी चाहे आपके दिल के अनुरूप मुंबई हमले में शामिल होने के लिए नहीं हुई पर फैंसला तो हुआ | आपके यहाँ आता तो उसकी मुख्य सुरक्षा में आप करोड़ों रुपया जनता का उसमे लगा देते और नतीजा ठन ठन गोपाल |  आपका मुख्य मकसद है जेल में रखना अपने किये की सज़ा वो भुगतेगा भगवान में यकीन रखें जनता को न बहकाएं |
समाचार 
CHICAGO (Reuters) - A U.S. jury on Thursday found Pakistani-born Chicago businessman Tahawwur Rana guilty of providing support to the Lashkar-e-Taiba (LeT), responsible for the 2008 assault on Mumbai, but not guilty of taking part in the attack. Headley admitted scouting targets for the Mumbai attackers sent by the LeT, the militant group behind both plots and designated by the U.S. State Department a terrorist organization. The judge gave both sides 60 days to file post-trial motions and did not set a sentencing date. Rana faces a maximum of 15 years in prison for each of the two counts. 

बाबा हजारे का लाभ

एक समाचार 
अपने एक दिन के अनशन की शुरुआत करने से पहले नई दिल्ली में बुधवार, 8 जून को राजघाट स्थित महात्मा गांधी की समाधि पर फूल चढ़ाते हुए प्रख्यात समाजसेवी अन्ना हजारे।

मेरे विचार 
बापू तेरे देश में चाहत कैसे कैसे भेष में 
तु रहा नंगधडंग यहाँ नंगे नेता के भेष में 

माननीय हजारे साहिब आप की मुहीम सलाम के लायक है पर जिस घेरे में आप चल रहें हैं जरा उन्हें परखिये और चुनिए उनमे जो भ्रष्ट न हो आप पाएंगे आप अकेले खड़े हैं परन्तु ये लड़ाई समस्त देश की है जहाँ तक हो सके उन नंगो से बचें जो बाहर और भीतर दोनों तरफ से नंगे है जिनकी आँख कहीं और चलती है और वह कहीं ओर चलते हैं | बाबा जहाँ तक मेरी बुद्धि पहुंची आप की नेकी का वो लोग जिनकी निगाहें कुछ हासिल करना चाहती हैं लाभ उठा रहें हैं |  

Powered by Blogger.

TRACK

There was an error in this gadget

Followers